Activity » स्पीच थेरेपी


स्पीच थेरेपी
यह एक सशक्त माध्यम है, जिसके द्वारा भाषा को बोलकर व्यक्त किया जाता है। स्पीच रेस्पीरेटरी सिस्टम से प्रोड्यूज वाईस को ओरो पेरीफेरता मैकेन्जिन के माध्यम से आकार प्रदान किया जाता हैं जिससे स्पीच को प्रोडकशन होता है।
    स्पीच प्रोडकशन एक जटिल प्रक्रिया है जिसमें कई सिस्टम मिलकर एक साथ काम करते है। जिससे स्पीच की उत्पत्ति होती है। स्पीच थेरेपी के माध्यम से श्रवण बाधित बच्चों को और अन्य बच्चों जिनको स्पीच में कठिनाई होती है। जैसे तुतलाना, हकलाना आदि। इन सभी बच्चों को स्पीच थेरेपी दिया जाता है।
    यह पर श्रवण बाधित बच्चों को उनकी श्रवण क्षमता के अनुसार उपयुक्त हियरिंगएड लगाकर स्पीच थेरेपी दिया जाता है। यहां पर सर्वे के दौरान हमें कई ऐसे बच्चें मिले हे जो सुनते है किन्तु बोल नहीं सकते है। उन बच्चों को स्पीच थेरेपी के द्वारा सामान्य किया जा रहा है। जिससे वह अपना जीवन आसानी से जी सके। स्पीच थेरेपी के माध्यम से श्रवण बाधित बच्चों को थेरेपी दिया जाता है। जिससे बच्चों को उपयुक्त श्रवण यंत्र दिया गया है। जो स्पीच थेरेपी में अत्यंत आवष्यक है। यहां पर इस प्रकार श्रवण बाधित बच्चों के साथ-साथ अन्य बच्चों को भी सेवा प्रदान किया जाता है। स्पीच थेरेपी के द्वारा बच्चों को नियर टू नार्मल किया जा सकता है। बच्चें को स्पीच डेवलपमेंट में यह एक बहुत ही उपयुक्त और कारगार साबित हुआ है। यह स्पीच डेवलपमेंट के साथ-साथ लैंग्वेज डेवलपमेंट भी स्वतः हो सकता है।
     स्पीच थेरेपी में अभिभावक के सहयोग से बच्चें को आत्म निर्भर बनाया जा सकता है। अभिभावक के सहयोग से बच्चें को पढ़ना-लिखना असानी से सिखाया जा सकता है। स्पीच थेरेपी के लिए सबसे उपयुक्त स्थानसाबित हुआ है क्यों कि यहां पर स्पीच थेरेपी के लिए सह 300 किलो मीटर दूर जाना पडता था। चूँकि दंतेवाड़ा में सुविधा होने से यहां के लोगो काफी हद तक सुविधा प्रदान हुआ है। क्योकि पहले थेरेपी के लिए उन्हे यहां से बाहर जाना पडता था जो संभव नही था अब यह सुविधा यहा होने से उनकी बहुत सी समस्याओं को समाधान हो रहा है, जिससे यहां पर बच्चों के नियर टू नार्मल लाने में सहायता मिल रहा है।
    यहां पर उपयुक्त अत्याधुनिक सामाग्री की व्यवस्था है जैसे आडियोमैट्री, बेरा, अािद टेस्ट उपलब्ध है जिसका लाभ अंचल के लोगों को दिया जा रहा है।